पावर बैंक खरीदने से पहले इसे जरूर देखें

पावर बैंक अभी भी बहुत जरूरी हो जाता है । सबसे मुश्किल तब होता है जब हम पावर बैंक लेना चाहते हैं और डिसाइड नहीं कर पाते हैं कि कितना mah का लें । और कौन सी ब्रांड का ले । हरेक प्रश्न का जबाब भी मिल जाएगा ।

पॉवर बैंक का जरूरत 

मोबाइल में बैटरी कैपिसिटी अभी के समय में ज्यादा दिया जाता है लेकिन मोबाइल पर काम भी ज्यादा किया जाता है । जैसे गेमिंग ,वीडियो एडिटिंग,वीडियो ग्राफी, फोटोशूट, सोशल मीडिया एक्टिविटी इत्यादि । अगर 5000mAh की बैटरी भी है, आपके मोबाइल में तब भी दिन में दो बार चार्ज करना ही पड़ता होगा । अगर आप ट्रेवल कर रहें हैं तो पावर बैंक बहुत जरूरी होता है क्योंकि सार्वजनिक स्थानों पर मोबाइल को भूल कर भी चार्ज नहीं करना चाहिए । 

पावर बैंक कैपिसिटी

अब बात आती है अगर पावर बैंक ले तो कितना mAh का ले । बाजार में 5000mAh से लेकर 50000mAh तक का मिल जाएगा । लेकिन असल में जरूरत कितने की होती है ? अगर 4000mAh की बैटरी है तो 10000mAh के पावर बैंक से 2 बार फूल चार्ज कर सकते हैं । अगर 5000mAh की मोबाइल की बैटरी है तो 1 बार पूरा चार्ज कर सकते हैं दूसरी बार चार्ज नहीं कर पाएंगे क्योंकि दूसरी बार आपके मोबाइल की बैटरी कैपिसिटी और पावर बैंक की कैपिसिटी बराबर हो जाएगी । 

पावर बैंक खरीदने से पहले इसे जरूर देखें
image credit : amazon

अगर पावर बैंक 10000mAh की है तो 10000 mAh कैपिसिटी ट्रांसफर नहीं कर पाता है । वह पावर बैंक 8000 mAh के लगभग में कैपिसिटी ही ट्रांसफर कर पायेगा । जब कैपिसिटी ट्रांसफर होता है तब भी कुछ कैपिसिटी खत्म होती है ।

वैसे मेरे ख्याल से 20000mAh का लेना चाहिए । air ट्रेवल में भी 20000mAh से ज्यादा नहीं ले जाने देता है । अगर 20000mAh का है तो 4000mAh की मोबाइल बैटरी को 4 बार से ज्यादा चार्ज कर सकता है ।

पावर बैंक का फीचर्स

पावर बैंक में अधिक फीचर्स नहीं रहता है । सेफ्टी फीचर्स आपको देखना पड़ता है । कितना लेयर का कवर दिया गया है । बिल्ड क्वालिटी में प्लास्टिक बिल्ड है तो बहुत अच्छा है लेकिन प्लास्टिक अच्छा क्वालिटी का होना चाहिए । इसके बाद पोर्ट देखना पड़ता है । दो USB पोर्ट रहना चाहिए ताकि एक साथ कम से कम दो डिवाइस को चार्ज किया जा सके । एक macro USB , एक USB type C पोर्ट चार्ज के लिए रहना चाहिए । ताकि दोनों में से कोई पोर्ट से चार्ज किया जा सके ।

इंडिकेटर लाइट के साथ ऑन-ऑफ स्विच रहना ही चाहिए । जो जेनरली हरेक पावर बैंक में रहता ही है।

सबसे महत्वपूर्ण फ़ास्ट चार्जिंग का होता है। अगर बड़ी कैपिसिटी का पावर बैंक है तो नार्मल चार्जर से 10 घंटा से ऊपर का समय लग सकता है चार्ज करने में । कम से कम 18 वाटस या उससे अधिक वाटस का सपोर्ट रहना चाहिए । साथ में ये भी देखना पड़ता है कि वोल्टेज आउटपुट कितना है ? क्योंकि मोबाइल चार्ज करने में भी समय लग सकता है ।

पावर बैंक का ब्रांड

इलेट्रॉनिक डिवाइस में ब्रांड मायने रखता है. पावर बैंक में बैटरी दी जाती है आप कैसे पता कर सकते हैं कि पावर बैंक 10000mAh की है या 20000mAh की । यह तो दो तरह से हो सकता है पहला ब्रांड वैल्यू देखना पड़ेगा । कोई भी नामी ब्रांड आपसे चीटिंग भूलकर भी नहीं करेगी ।

दूसरा तरीका है, आप पावर बैंक को खुद से टेस्ट कर सकते है । टेस्ट करने का तरीका है पहले अपने पावर बैंक को फुल चार्ज करिए । उसके बाद 4000mAh बैटरी वाला मोबाइल लीजिये । इस मोबाइल की बैटरी की कैपिसिटी को पूरी तरह खत्म करिए । उसके बात इसे पावर बैंक से चार्ज कीजिये । अगर यह पावर बैंक दो बार फुल चार्ज कर देता है तब आप समझ सकते है कि यह पावर बैंक 10000mAh का है ।

पावर बैंक खरीदने से पहले इसे जरूर देखें
image credit : amazon

अच्छे पावर बैंक का लिस्ट 

Mi power bank 3iRs.1,699/-20000mAhAmazon
AmbraneRs. 1,149/-20000mAhAmazon
SyskaRs. 1,149/-20000mAhAmazon

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *