“अग्निपथ” का भविष्य जनिये आपके लिए क्यों अच्छा है ! और क्यों नहीं

“अग्निपथ” भारत सरकार की एक योजना है जिसके तहत स्थल ,जल और वायु सैनिकों की भर्ती की जाएगी ।

अग्निपथ योजना के तहत सैनिकों में भर्ती होने वालों के लिए कुछ नियम बनाये गए हैं ।

आप नियम को डिटेल में पढ़ सकते हैं । नीचे लिंक दिया जा रहा है।

मैं सिर्फ मूलभूत जानकारी दे देता हूँ ।

इस योजना के तहत 17 वर्ष 6 महीने उम्र से 23 वर्ष की उम्र के युवा को तीनों सैनिकों में भर्ती किये जायेंगे।

भर्ती होने से 4 साल तक देश की सेवा कर सकेंगे । उसके बाद जितने युवा भर्ती होंगे उनका 25 प्रतिशत युवा को आगे की सेवा के लिए रखें जाएंगे ।

चार साल के दैरान अग्निवीर सैनिक को अच्छे खासे सेलरी दी जाएगी । इसके बारे में आप नीचे लिंक से पढ़ सकते हैं।

अग्निपथ योजना का मकसद

अग्निपथ योजना से सरकार करना क्या चाहती है ।

  • सैनिकों में इंसानों की संख्या कम की सकती है। क्योंकि अभी के आधुनिक समय में किसी देश से युद्ध मशीन लड़ते है। मिसाइल ,ड्रोन, रोबोट इत्यादि। मशीनों पर कम खर्च आती है
  • लेकिन जब एक इंसान को आप सैनिक में लेते हैं तब बहुत ज्यादा खर्च बढ़ जाती है। मासिक वेतन , फिर दुनिया भर की फैसिलिटी जिसपर सरकार को बहुत खर्च होती है। अगर सैनिकों में इंसानों की संख्या कम किया जा रहा है तो यह एक अच्छा कदम है।

अग्निपथ से निकले युवाओं का सुनहरा भविष्य होंगे

  • अगर आप 18 वर्ष में भर्ती होते हैं तो आप 22 वर्ष की उम्र में आप सैनिक से निकलेंगे ।
  • तब आपके पास एक मजबूत और तंदुरुस्त दिमाग और शरीर होंगे ।
  • तब तक आपको स्तनातक की डिग्री भी मिल जायेंगे । आप IAS ,IPS और दूसरे परीक्षा में बैठने के काबिल हो जाएंगे ।
  • खास बात यह होगी आपको अधिक प्राथमिकता दी जाएगी ।
  • प्राथमिकता इसलिए दी जाएगी क्योंकि जिस एजेंसी में आप काम करेंगे उस एजेंसी को खास ट्रेनिंग नहीं देनी होगी ।
  • आप एक अनुशासित होंगे । आपको कंपनियों सबसे पहले जगह देंगी।
  • अगर आप 23 वर्ष में भी भर्ती होते हैं तो 27 वर्ष में आप सैनिक से निकलेंगे। लेकिन आपके लिए और भी अच्छा होने वाला है। 23 वर्ष तक में आप स्तनातक डिग्री में ले चुके होंगे । निकलने के बाद अच्छे सर्विसेज में जा सकते हैं । जैसे सिविल सर्विसेज, दरोगा इत्यादि ।

कुछ कमियां है अग्निपथ योजना में

तीनों सैनिकों में भर्ती की उम्र सीमा एक समान ही है । लेकिन ऐसा नहीं होना चाहिए। अभी तत्काल जो उम्र में नियम है तीनों सैनिकों के भर्ती में वही नियम रखना चाहिए । धीरे-धीरे एक उम्र में नियम किया जाना चाहिए ।

लेकिन एक बड़ा सवाल तो यह है कि अग्निपथ से निकले युवा के लिए भविष्य में रोजगार होंगे । अगर अग्निपथ वाले युवा को ही सब रोजगार मिल जायेंगे तो और बचे युवा का क्या होगा ।

अगर मैं इस योजना में आने के लिए लायक होता तो मैं सबसे पहले जॉइन करता ,लेकिन मेरी उम्र इस योजना से ऊंची हो चुकी है। जिंदगी में अलग-अलग चीजों को करने का मौका मिलता ।

Leave a Comment

Your email address will not be published.