rom kya hai जानिए आसान भाषा में

इस लेख में rom kya hai पूरी जानकारी देने वाला हूँ । मेरा दूसरा भी लेख देखें होंगे । जिसमें आसन तरीका से समझाया था ram kya hai.

आज में rom kya hai समझने वाला हूँ । कोई भी टेक्निकल शब्द का प्रयोग नहीं किया है । अभी तक जितना फिर लेख पढ़ें होंगे । वो सभी जटिल तरीका से समझाया है मैंने भी देखा है । इसलिए मैं सोचा कि क्यों न आसन तरीका से समझाया जाए ताकि कोई भी समझ सकें ।

ROM सुनते ही ऐसा होने लगता है कि ये टेक्निकल चीज़ है मैं नहीं समझ पाऊँगा । लेकिन आपको बता दें कि कुछ भी टेक्निकल नहीं है । सिर्फ आपको नाम से डर लगता होगा । चलिए आसान तरीका से समझते हैं की rom kya hai .

ROM का फुल नाम

ROM फूल नाम होता है Read Only Memory मतलब एक ऐसा मेमोरी जिस मेमोरी को आप खोल कर उसमें स्टोर डेटा को देख सकते हैं ।

रोम क्या होता है

सभी स्मार्टफोन में दो तरह का मेमोरी लगा होता है । एक ऐसा मेमोरी होता है  जो फोन खोलने पर दिखाई देता है । उसमें आप वीडियो ,फ़ोटो, फ़ाइल डाऊनलोड कर के रख सकते हैं । उसे देख भी सकते हैं । इसको फ़ोन स्टोरेज भी कहा जाता है और इसे ही  ROM भी कहते हैं।

जैसे 6GB/128GB वाला मोबाइल खरीदते हैं तो इसमें 128GB ROM होता है । 

दूसरा मेमोरी जो लगा रहता है उसे RAM कहते हैं । इसके बारे में आप पढ़ सकते हैं ram kya hai .

ROM का प्रकार

मैं सिर्फ मोबाइल ROM के बारे में बात कर रहा हूँ । अगर कंप्यूटर की बात करें तो वहाँ कुछ और हो सकता है । 

मोबाइल में जो ROM लगा रहता है । उसके स्पीड के अनुसार उसे अलग अलग प्रकार में विभाजित किया है ।  जैसे emmc ,UFC 2.1 इत्यादि ।

इन सभी में कौन सा बेस्ट होता है । इसके बारे के ROM के प्रकार को अच्छी तरह से पढ़ सकते हैं ।

ROM क्यों जरूरी है 

6GB/128GB वाले में 128GB ROM होता है । इस 128 GB का क्या उपयोग आप करते हैं  ये तो आपको पता चला गया होगा । लेकिन आपके फ़ोन के लिए भी ये 128GB बहुत ही महत्वपूर्ण होता । 

जब आप 128GB ROM वाला मोबाइल खरीदते हैं  तो आपको 128GB नहीं मिलता है । उसमें हो सकता है 100GB ही मिले या उससे कम मिले ऐसा क्यों होता है । 

आपके मोबाइल में पहले से इनस्टॉल ऐप्स और ऑपरेटिंग सिस्टम होता है । जो इतना जगह को घेर कर रखता है । अगर आप कुछ भी ऐप्स डाऊनलोड करते हैं तो वह ROM मेमोरी में ही रहता है । 

ROM की स्पीड

ROM  एक तरह का मेमोरी है । तो स्पीड तो होती ही है या तो कम स्पीड होगी या अधिक स्पीड होगी । और कम स्पीड वाला ROM रहेगा तो उसका प्राइस कम होता है । और अगर ज्यादा स्पीड वाला ROM रहता है तो उसका प्राइस भी ज्यादा होता है ।

जैसा कि मैंने ऊपर भी बताया है 6GB/128GB वाला मोबाइल खरीदते हैं तो इसमें 128GB ROM होता है । इस 128GB मेमोरी का स्पीड कम रहेगा तो कोई काम का नहीं रहेगा । 

स्पीड ज्यादा रहने से आपका मोबाइल फ़ास्ट होगा । क्योंकि जब आप ऐप्स को खोलते हैं तो वह ROM से RAM में आता है । और RAM में फिर वह ऐप्स प्ले होता है । और ROM स्पीड कम है तो हो सकता है । आपका ऐप्स खुलने में ज्यादा समय लगे । या कोई हाई क्वालिटी मूवी देख रहें हैं जो पहले से डाऊनलोड है । वह अच्छी तरीका से नहीं चलेगा । या वह मूवी चलेगा ही नहीं ।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *